Home » News Section » आचार्य भगवन और उनके शिष्य धन्य है कोटिशः नमन…

आचार्य भगवन और उनके शिष्य धन्य है कोटिशः नमन…

:startपरम पूज्य 108 आचार्य गुरु विद्यासागर जी महाराज जी के परम शिष्य 108 परम पूज्य मुनि श्री विनम्र सागर जी महाराज जी वैय्या वृत्ति निस्पृह उदाहरण देते हुए। 

परम पूज्य 108 आचार्य श्री विराग सागर जी महाराज जी के परम शिष्य 70 वर्षीय मुनि श्री 108 विश्व लोचन महाराज जी की सेवा करते हुए एक अनोखा दृश्य।
यह अनोखा दृश्य सिलवानी का है आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज जी ससंघ सिलवानी में विराजमान है धन्य है आचार्य भगवन और उनके शिष्य धन्य है कोटिशः नमन…:end

Check Also

Aachary shri update

🙏🙏🙏 प.पू. अभीक्ष्ण ज्ञानोपयोगी आचार्य श्री वसुनंदी जी मुनिराज ससंघ (मुनि श्री ज्ञानानंद जी, आत्मानंद …